Monday, July 22, 2024

वाराणसी में PCS अधिकारी से मांगी गयी रंगदारी।

वाराणसी में PCS अधिकारी से 35 लाख रुपए की रंगदारी मांगी गई है। अधिकारी को नौकरी से निकालने और फर्जी केस में फंसाने के नाम पर धमकाया गया है। फिलहाल, पीड़ित ने इस संबंध में कैंट थाने पर मुकदमा दर्ज कराया। मामले में पुलिस जांच में जुट गई है।

पीसीएस सहायक अभियोजन अधिकारी दीपक कुमार के अनुसार- फोन करने वाले व्यक्तियों को वो पूर्व में 10 लाख रुपए दे चुके हैं। उस वक्त एक लड़की ने फोन कर झूठे मुकदमे में फंसाने की बात कही थी।

*फोन से पहले धमकाया फिर मांगे 35 लाख*

सहायक अभियोजन अधिकारी दीपक कुमार ने बताया कि उनके मोबाइल पर राधेश्याम तिवारी नामक व्यक्ति का फोन आया था। उसने धौंस जमाते हुए 35 लाख रुपए की डिमांड की और न देने पर अंजाम भुगतने की चेतावनी दे डाली। दीपक कुमार ने बताया कि इसके पहले भी 10 लाख की डिमांड की गई थी, जिसे मैंने लोन लेकर दिया था।

*फर्जी मुकदमें में फंसाने और नौकरी से निकलवाने की दी धमकी*

दीपक कुमार ने बताया कि 35 लाख रुपए देने से मना करने पर व्यक्ति द्वारा झूठे केस में फंसाने और झूठे केस में फंसाने की धमकी दी जा रही है। ऐसे में मैंने नामजद मुकदमा कैंट थाने में दर्ज कराया है। फिलहाल कैंट थाना प्रभारी ने मुकदमा दर्ज कर अग्रिम कार्रवाई शुरू कर दी है।

*पीसीएस अधिकारी ने इन पर लगाए आरोप*

अधिकारी ने पुलिस को दिए प्रार्थना पत्र में कहा है कि ‘इस पूरे घटनाक्रम में प्रयागराज की अलकापुरी कालोनी अशोक नगर के रहने वाले अशोक कुमार पांडेय और सहारनपुर की जनक नगर की शालिनी शर्मा का हाथ है। अशोक और शालिनी दोनों शातिर किस्म के हैं और न्यायालय को भ्रमित कर किसी के ऊपर भी मुकदमा दर्ज करवा देते हैं।

escort bayan sakarya escort bayan eskişehir