Monday, July 22, 2024

गंगा तटीय क्षेत्रों में बाढ़ का खतरा मंडरा रहा है।

वाराणसी। यूपी 18news।

गंगा नदी का जलस्तर लगातार बढ़ रहा है वाराणसी। यूपी में भारी बारिश के कारण नदियों का जलस्तर बढ़ा हुआ है। खासकर, गंगा अपने साथ भारी मात्रा में पानी लेकर बह रही है। लिहाजा, गंगा तटीय क्षेत्रों में बाढ़ का खतरा मंडरा रहा है।इसका असर काशी के घाटों पर भी दिखने लगा है। वाराणसी में गंगा नदी का जलस्तर लगातार बढ़ रहा है, जिसके चलते गंगा किनारे रह रहे लोगों की चिंताएं बढ़ गई हैं।
पहाड़ों में बारिश से बाढ़
दरअसल, पहाड़ी क्षेत्र में हो रही लगातार बारिश से गंगा का जलस्तर लगातार बढ़ रहा है। पिछले एक हफ्तों में गंगा का जलस्तर चार सीढ़ी ऊपर चढ़ गया है, जिससे गंगा किनारे रहने वाले और छोटे व्यापारियों को चिंता सताने लगी है। दुकानदार शैलेंद्र ने कहा कि जब भी गंगा नदी का जलस्तर बढ़ता है तो उन्हें अपनी दुकान को दूसरी जगह शिफ्ट करना पड़ता है। इसके कारण उनकी दुकानदारी पर भी काफी फर्क पड़ता है।
दुकानें दूसरी जगह शिफ्ट
वहीं, अन्य दुकानदार वाल्मीकि निषाद ने बताया कि पिछले एक हफ्ते से तेजी के साथ पानी का जलस्तर बढ़ा है। घाट की पांच-छह सीढ़ी ऊपर तक पानी पहुंच गया है। घाट किनारे मौजूद सभी दुकानदार अपने सामान के साथ दूसरी ओर शिफ्ट हो रहे हैं। पानी के बढ़ते जलस्तर ने स्थानीय दुकानदारों की चिंताएं बढ़ा दी हैं।
नाविक रवि साहनी ने कहा कि पिछले कुछ दिनों में गंगा के जलस्तर में बढ़ोत्तरी हुई है। गंगा का पानी बढ़ने से स्थानीय लोगों के साथ-साथ यात्रियों को भी परेशानी का सामना करना पड़ता है। इस दौरान वह यात्रियों को पानी के पास जाने को लेकर सतर्क भी करते हैं। ताकी कोई अनहोनी घटित न हो।
बता दें कि उत्तर प्रदेश के कई जिलों में हो रही बारिश के चलते कई नदियां उफान पर हैं। जानकारी के अनुसार, लखनऊ, गोंडा, लखीमपुर, बरेली, बस्ती में लोग बाढ़ से प्रभावित हैं। इसके अलावा बहराइच, श्रावस्ती और पीलीभीत भी बाढ़ की चपेट में है। बाढ़ की स्थिति को देखते हुए एनडीआरएफ की भी तैनाती की गई है।
साभार

escort bayan sakarya escort bayan eskişehir